search_avp

पसंद की खबरें प्राप्त करने के लिए यहां टाइप करें !

JAUNPUR NEWS : न्यायालय के आदेश पर तीन अध्यापकों पर धोखाधड़ी सहित गंभीर धाराओं में केस दर्ज

जौनपुर न्यूज़ । बता दे कि स्वामी विवेकानंद इंटर कालेज मड़ियाहूं (जौनपुर) के 03 अध्यापकों को न्यायालय के आदेश पर प्रबंधक ने धोखाधड़ी सहित गंभीर धाराओं में मड़ियाहूं कोतवाली में मुकदमा पंजीकृत कराया है।


बताते चले कि विद्यालय के प्रबंधक रामेश्वर सिंह निवासी वारीनाथ मंदिर उर्दू बाजार ने धारा 156 ( 3 ) सीआरपीसी के तहत न्यायालय में प्रार्थना पत्र दिया था कि शिक्षक अभिषेक सिंह पुत्र भोला सिंह प्रवक्ता इतिहास विभाग, अशोक मौर्य पुत्र शिव मुनि राम प्रवक्ता नागरिक शास्त्र व अशोक कुमार वर्मा सहायक अध्यापक आए दिन आपस में साजिश करके विद्यालय का माहौल खराब करने पर लगे रहते हैं। उपस्थिति पंजिका पर जबरदस्ती उपस्थित होना बताकर हस्ताक्षर करते रहे हैं। विद्यालय प्रबंध समिति के लोगों से दुर्व्यवहार करते हुए विद्यालय में उपस्थित प्रधानाचार्य व शिक्षकों को तरह-तरह से अपमानित करते हैं। तथा जबरदस्ती उपस्थिति पंजिका पर कूट रचना करके स्वयं को उपस्थित रहना दर्शाकर वेतन बनवा कर वेतन आहरित करते है। कई बार लिखित चेतावनी देने के बाद भी सुधार नहीं हुआ। प्रबंध समिति की बैठक में सर्वसम्मति से 18 दिसंबर 2022 को निलंबित किया गया तथा तीनों से स्पष्टीकरण देने को कहा गया। लेकिन तीनों ने कोई स्पष्टीकरण नहीं दिया गया। इसके बाद भी उपस्थिति पंजिका से छेड़छाड़ किए। प्रबंध समिति की बैठक 11 फरवरी 2023 को बुलाई गई और सर्व सम्मति से उनके गलत व आपराधिक आचरण को देखते हुए सेवा मुक्त कर इसकी सूचना अध्यापकों व अधिकारियों को दी गई। 13 फरवरी 2023 को अध्यापक विद्यालय में आकर विद्यालय के लिपिक कार्यालय में घुस गए और मारपीट करते हुए विद्यालय के कागजात फाड़ दिए | उपस्थिति पंजिका को जबरदस्ती छीनकर अपने हस्ताक्षर बनाए और जान से मारने की धमकी देते हुए चले गए। जिससे विद्यालय का माहौल खराब हुआ और विद्यालय के कर्मचारी व छात्र विद्यालय परिसर से पलायन करने लगे। आरोप है कि उपरोक्त लोग उपस्थिति पंजिका व सेवा पंजिका को जबरदस्ती अपने कब्जे में लेकर कूट रचना कर फर्जी हस्ताक्षर बनाए । जिसकी सूचना प्रभारी निरीक्षक कोतवाली मड़ियाहूं को दी गई। कोई कार्यवाही न होने पर 27 फरवरी 2023 को मामले की सूचना पुलिस अधीक्षक को रजिस्टर डाक द्वारा भेजी गई। लेकिन वहां भी कोई कार्यवाही नहीं हुई। न्यायालय ने प्रकरण को संज्ञान में लेते हुए कोतवाल मडियाहूं को मुकदमा पंजीकृत कर जांच का आदेश दिया। पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर मुकदमा दर्ज कर लिया।


सांकेतिक चित्र - AVP NEWS 24