search_avp

पसंद की खबरें प्राप्त करने के लिए यहां टाइप करें !

जौनपुर : रमज़ान के दूसरे जुमा पर नमाज़ियों की भीड़ जुमा मस्जिदों मे उमड़ी



REPORTED BY : जेड हुसैन (बाबू) 
EDITED BY : AVP NEWS 24
जौनपुर। शुक्रवार की मुस्लिम समाज में विशेष महत्ता है। जुमे की नमाज़ पढ़ने के लिए बड़ी संख्या में नमाज़ी शाही अटाला मस्जिद,जामा मस्जिद (बड़ी मस्जिद) समेत अलग-अलग मस्जिदों में एकत्रित हुए,जहां उन्होंने रमज़ान के दूसरे जुमे की नमाज़ अदा की।नगर की प्रमुख शाही अटाला मस्जिद में मौलाना अहमद नवाज़ ने जुमा की नमाज़ अदा कराई तथा मौलाना आफ़ाक़ ने रमज़ान की फ़ज़ीलत पर प्रकाश डालते हुए कहा कि रमज़ान का महीना इबादत और बरकतों का महीना है,इसमें मुस्लिम लोग विशेष तरह की नमाज़ ए तरावीह अलग से अदा करते हैं। यह नमाज़ केवल रमज़ान माह में ही पढ़ाई जाती है। वहीं दूसरी ओर शाही जामा मस्जिद (बड़ी मस्जिद) मे मौलाना अबू हुरैरा ने नमाज़ अदा कराई और मुल्क मे अमन व चैन के साथ भाईचारगी बनी रहे इसके लिए विशेष रूप से दुआ मांगी।

मदरसा हनफिया नवाब युसूफ रोड मदीना मस्जिद मे इमाम मौलाना अहमद रज़ा ज़ाफ़री ने नमाज़ अदा कराई नमाज़ियों को ख़िताब करते हुए मौलाना कयामुद्दीन ने कहा कि रमज़ान इबादत के साथ-साथ गुनाहों से बचने का और तौबा करने का महीना भी है। खानकाह मस्जिद मे मौलाना हाफ़िज़ मेराज ने कहा कि रमज़ान में इबादत के साथ-साथ गरीबों,बेसहारा लोगों के अलावा विधवाओं के लिए मदद करने का भी महीना है। इसके अलावा रमज़ान के दूसरे जुमा की नमाज़ शाही क़िला मस्जिद, झंझरी मस्जिद, लाल दरवाजा मस्जिद,लाल मस्जिद, मोहम्मद हसन मस्जिद, इलाही मस्जिद उर्दू बाजार,आया मस्जिद, आलम मस्जिद, गौशाला मस्जिद, ज़क़रिया मस्जिद, चहारसु मस्जिद, शाही पुल शेर मस्जिद, इंद्रा मार्केट मस्जिद,  कचहरी मस्जिद, रेलवे स्टेशन मीरपुर मस्जिद, मियांपुर मस्जिद के अलावा आसपास की मस्जिदों में भी अदा की गई और देश की खुशहाली के लिए दुआएं मांगी गई। मरकज़ी सीरत कमेटी के पूर्व अध्यक्ष हफ़ीज़ शाह ने कहा की नगर पालिका की तरफ से दूसरे जुमा को देखते हुए विशेष सफाई की व्यवस्था की गई तथा चूने का छिड़काव कराया गया रमज़ान के महीने मे प्रशासन द्वारा दी जा रही मुलभुत सुविधाओं से नमाजियों के लिए आसानियां हो रही है और कई जगह पर हिंदू भाइयों ने मुसलमानों को रमजान की बधाई दी और मुसलमानों ने होली की हिंदू भाइयों को बधाई दी जो राष्ट्रीय एकता का एक महत्वपूर्ण उदाहरण है।

सम्बंधित खबरें  👇