search_avp

पसंद की खबरें प्राप्त करने के लिए यहां टाइप करें !

ढाई साल की बच्ची को पागल कुत्ते के काटने से हुई मौत , बच्ची ने मौत से पहले 50 लोगो को काटा ।

image

त्तर प्रदेश: जालौन के कोंच में एक ढाई साल की बच्ची  को पागल कुत्ते के काटने से बच्ची कुत्ते जैसा हरकत करने लगी। आपको बता दें कि बच्ची की इलाज के दौरान झांसी में मौत हो गई, मिली जानकारी के अनुसार बच्ची मरने से पहले उसने गांव के लगभग 50 लोगों को काटा है।

वह सभी 50 लोग जो अब सीएचसी कोंच में एंटी रैबीज के इंजेक्शन लगवा रहे हैं। आपको बता दें कि इस घटना को लेकर गांव में दहशत है। यह मामला तहसील क्षेत्र के क्योलारी गांव का है। बच्ची अपने मामा के घर गांव हिड़ोखरा गई थी। 

वहां बच्ची अपने मामा के घर जब बाहर खेल रही थी तब एक पागल कुत्ते ने अचानक उसे काट लिया था। फिर वह अपने घर क्योलारी आ गई, जानकारी के अनुसार एक दिन बाद उस बच्ची में कुत्ते जैसे हरकत उभरने लगी और उसने गांव के आकाश, फूलसिंह, विनीता, पप्पू, भूरी, सुनील समेत लगभग 50 लोगों को काट लिया। 

आपको बता दें कि बच्ची के परिजन उसे इलाज के लिए उरई ले गए। जहां से उसे गंभीर हालत में देखते हुए डॉक्टरों ने उसे झांसी के लिए रेफर कर दिया। जब बच्ची को परिजन ने 22 जुलाई को झांसी ले जा रहे थे कि मेडिकल कॉलेज पहुंचते ही बच्ची की मौत हो गई।

वही एसीएमओ डॉ. एसडी चौधरी का इस पर कहना है कि रैबीज कुत्ता, बंदर, सियार जैसे जानवरों के काटने से ही फैलता है। किसी मनुष्य के काटने से रैबीज नहीं फैलता है। पर लोग अपनी बच बचाव एवं सहूलियत के लिए इंजेक्शन लगवा रहे हैं।